दुनिया का चमत्कारी पौधा कासनी जो करें अनेको बीमारीयों का रामबाण इलाज

कासनी "किडनी "लीवर "के लिए रामबाण

पेड़ पौधों की दुनिया का चमत्कारी पौधा कासनी, के बारे में आज हम आपको बताते हैं। कासनी एक भूमध्य क्षेत्र Mediterranean की जड़ी बूटी है। इसे इंग्लिश में चिकोरी / चिकरी Chicory कहा जाता है। इस पौधे की जड़ को यूरोप में कॉफ़ी के विकल्प substitute for coffee के रूप में प्रयोग किया जाता है और वहां पर इसकी खेती की जाती है।

Buy medicinal plants | Buy Plants | Buy Pots | Buy Fertilizers | Buy seeds | Offers

कासनी के पत्ते काहू के पत्तों जैसे होते हैं। इसमें चमकीले नीले रंग के फूल खिलते हैं और इसकी मंजरियाँ मुलायम होती हैं। इसकी दो प्रजातियाँ हैं, जंगली और उगाई जाने वाली। खेती की जाने वाली प्रजाति मीठी सी होती है जबकि जंगली प्रजाति कडवी होती है। जंगली के अपेक्षा उगाई प्रजाति के पौधे की पत्तियों को अधिक शीतल और तर माना गया है।

किडनी, ब्लड शुगर लीवर और बवासीर जैसी बीमारियों में इस मेडिसन पौधे की पत्तियों का सेवन मरीजों के लिए रामबाण का काम कर रही है. आर्युवेदिक गुणों से भरपूर इन पौधे की मांग न केवल देश भर में है बल्कि विदेशों तक के डॉक्टर इन रोगों से ग्रसित मरीजों को कासनी के सेवन की सलाह दे रहे हैं.

Buy medicinal plants | Buy Plants | Buy Pots | Buy Fertilizers | Buy seeds | Offers

हल्द्वानी वन एवं अनुसंधान केन्द्र की औषधीय पौधशाला में लगभग 25 प्रकार के आर्युवेदिक पौधों को तैयार किया जाता है.विलुप्त होने की कगार पर पहुंची कासनी के पौधों पर यहां पिछले दो साल से रिर्सच की गई और एक बड़ी नर्सरी तैयार की गई.

कासनी का सेवन पाचन में सहयोग करता है। भारत में कासनी, उत्तर-पश्चिमी भारत में 6000 फीट की ऊंचाई तक तथा बलूचिस्तान, पश्चिमी एशिया, और यूरोप में उगाई जाती है। कासनी की जड़ को मुख्यतः औषधीय रूप से प्रयोग किया जाता है। इसका प्रयोग प्यास, किडनी, सिरदर्द, नेत्र रोग, गले की सूजन, लीवर के रोग, बुखार, उल्टी, लूज़ मोशन आदि में बहुत लाभदायक है। इसके सुखाये बीजों को ठंडाई में भी मिलाया जाता है।

औषधीय मात्रा (Dosage of Kasni)-

  1. पत्तों का रस Leaf juice: 12-24 ml
  2. जड़ का चूर्ण root powder: 3-6 gram
  3. बीजों का चूर्ण powder of seeds: 3-6 gram
    कासनी के बीज, छोटे, सफ़ेद, वज़न में हल्के, स्वाद में तिक्त होते हैं। कासनी की जड़, गोपुच्छाकार, बाहर से हल्की भूरी और अन्दर से सफ़ेद होती है। इसका स्वाद फीका, कडवा और लुवाबी slimy होता है।
    कासनी में औषधीय प्रभाव एक साल तक रहते हैं।

Buy medicinal plants | Buy Plants | Buy Pots | Buy Fertilizers | Buy seeds | Offers

कासनी के गुण और औषधीय प्रयोग (Properties and Health Benefits of Kasni)

  • यह किडनी की अक्सीर दवा है. हजारों किडनी पीडि़त इस पौध की पत्ती चबाने से रोग मुक्त हो गये हैं. एक मरीज का क्यूरेटिन लेवल 10.8 था वह अब 4.8 हो गया है. उसी तरह से शुगर लेवल 500 था आज वह नार्मल इस संजीवनी से ठीक हो गया | इसके सेवन से एक ही नहीं अनेकों किडनी और शुगर के मरीजों को लाभ पहुंचा है.

  • कासनी का प्रभाव शामक / निद्राजनक sedative होता है जो की इसमें पाए जाने वाले लैक्टुकोपिक्रीन lactucopicrin के कारण होता है।

  • कासनी में खनिज जैसे पोटेशियम, लोहा, कैल्शियम और फास्फोरस, विटामिन सी तथा अन्य पोषक तत्व पाए जाते हैं।

Buy medicinal plants | Buy Plants | Buy Pots | Buy Fertilizers | Buy seeds | Offers

  • इसमें इनुलिन होता है। कासनी को डायबिटीज में ब्लड सुगर लवेल को कम करने के लिए प्रयोग किया जाता है।

  • यह यकृत की रक्षा करता है और शराब के सेवन के कारण होने वाले लीवर के नुकसान से बचाता है।

  • इसे एंग्जायटी और तंत्रिका संबंधी विकार के इलाज के लिए प्रयोग किया जाता है।

  • मूत्रल होने से यह पेशाब की मात्रा को बढ़ाता है और पेशाब रोगों, शरीर में सूजन आदि से राहत देता है।

Buy medicinal plants | Buy Plants | Buy Pots | Buy Fertilizers | Buy seeds | Offers

  • यह पाचन को बढ़ाता है।

  • यह खून को साफ़ करता है।

  • यह रक्तवर्धक है।

  • इसके पत्तों के लेप से जोड़ों का दर्द दूर होता है।

Buy medicinal plants | Buy Plants | Buy Pots | Buy Fertilizers | Buy seeds | Offers

  • जड़ को पीस कर बिच्छू के काटे जगह पर लगाने से आराम मिलता है।

  • कासनी के बीज, यूनानी में दूसरे दर्जे के सर्द और खुश्क माने गए हैं। बीज भूख बढ़ाने वाले, कृमिनाशक, लीवर रोग, कमर के दर्द, सिरदर्द, दिल की धड़कन, जिगर की गर्मी, पीलिया, आदि को दूर करते हैं। बीज का सेवन दिमाग को ताकत देता हैं।
    

Buy medicinal plants | Buy Plants | Buy Pots | Buy Fertilizers | Buy seeds | Offers


Buy ready to use nutrient rich soil:

Buy nutrient rich soil | Buy Fertilizers >>

In general use a soil-based compost placed over a generous layer of drainage material such as earthenware crocks, pebbles or gravel. Water and feed regularly, especially while plants are bearing flowers and fruit, when a high-potash fertilizer is recommended.


Buy Decorative Pebbles :

Decorate planters or garden landscapes with these decorative pebbles :

View Details | Buy Decorative Pebbles >>

Using pebbles in a garden brings different colours and textures to the garden. Pebbles can also fill up otherwise empty space in the garden, leaving a visual that might be considered more interesting and aesthetic than simple dirt, soil or mulch.

Buy planters online >>

Add a splash of beauty to balconies, patios, walls, fences & window sills with durable,light weight, Rotomolded planters.