हिमाचल की यह सब्जी बिकती है 30 हज़ार रूपए प्रति किलो में इसकी खासियत जानकर दंग रह जायेंगे आप, यह दिल के मरीजों के लिए संजीवनी है

in%20-%20Copy
Medicinal Plants Click here >>

आज हम आपको ऐसी जादुई सब्ज़ी के बारे में बताएँगे जो दिल के मरीज़ों के लिए संजीवनी है। आज तक आप लोगों ने 20 से 100 रूपए किलो की सब्जियां तो खाई होंगी। लेकिन क्या आप लोगों ने कभी 30000 रूपए प्रति किलो वाली सब्जी खाई है। जी हाँ, जिसकी अपनी एक अगल ही खासियत है। तो चलिए जानते हैं इस सब्जी और इसकी खासियत के बारे में।

9d515b56263e9646afa321965d654cca
Medicinal Plants Click here >>

हिमाचल के पर्वतीय क्षेत्रों में पाई जाने वाली दुर्लभ गुच्छी (MOREL) की तलाश में कई गांव के गांव इन दिनों खाली हो गए हैं। पांच सितारा होटलों के लजीज पकवानों में गिनी जाने वाली औषधीय गुणों से भरपूर गुच्छी के उगने से ऊपरी शिमला के जंगल में इसे ढूंढने के लिए ग्रामीण बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं।

44tawefdsc
Medicinal Plants Click here >>

प्रकृति के खजाने के इस कीमती तोहफे को पाने के लिए ग्रामीणों में हर बार की तरह कड़ी प्रतिस्पर्धा शुरू हो गई है। ऐसा माना जाता है कि इसका नियमित रूप से उपयोग करने से दिल की बीमारियां मनुष्य को नहीं होती हैं। और जो हार्ट पेशेंट इस का उपयोग करते हैं उन्हें भी फायदा होता है। गुच्छी का वैज्ञानिक नाम मार्कुला एस्क्यूपलेंटा है, लेकिन इसे हिंदी में स्पंज मशरूम कहा जाता है। यूं तो दुनिया में बहुत सी वैरायटी के मशरूम हैं, लेकिन सबसे ज्यादा चर्चा गुच्छी मशरूम की हो रही है | आइए जानते हैं गुच्छी मशरूम खाने के क्या फायदे हैं और क्यों कहा जाता है इसे एक मेडिसिनल फंगस.

wradfs%20-%20Copy
Medicinal Plants Click here >>

यूं तो यह सब्जी औषधीय गुणों से भरपूर है लेकिन इससे नियमित खाने से दिल की बिमारियां दूर हो जाती है। यह सब्जी हार्ट पेशेंट के लिए उपयोगी होती है। गुच्छी का वैज्ञानिक नाम मार्कुला एस्क्यूपलेंटा है, लेकिन इसे हिंदी में स्पंज मशरूम कहा जाता है। इसमें विटामिन-बी और डी के अलावा विटामिन-सी और विटामिन-के प्रचुर मात्रा में होता है।

sdfgsecv%20-%20Copy
Medicinal Plants Click here >>

यह सब्जी दिल के मरीजों के लिए काफी फायदे मंद मानी जाती है। जिसके लिए डॉक्टर्स का कहना है की गुच्छी आपको दिल जैसे खतरनाक रोगों से दूर रखने में मदद करती है। क्योंकि इसमें बहुत ही ज्यादा मात्रा में विटामिन-बी पाया जाता है। इसीलिए इस सब्जी की आज बाजार में बहुत ही ज्यादा मांग है। लेकिन इसकी उत्पति बहुत ही कम हो पाती है, क्योंकि यह प्राकृतिक रूप से उगती है।

चीन में इस मशरूम का इस्तेमाल सदियों से शारीरिक रोगों/क्षय को ठीक करने के लिए किया जा रहा है.

गुच्छी मशरूम में 32. 7 प्रतिशत प्रोटीन, 2 प्रतिशत फैट, 17. 6 प्रतिशत फाइबर, 38 प्रतिशत कार्बोहायड्रेट पाया जाता है. इसीलिए यह काफी हेल्दी होता है.

jhjfujgbkj
Medicinal Plants Click here >>

गुच्छी मशरूम से प्राप्त एक्सट्रैक्ट की तुलना डायक्लोफीनेक(Diclofenace) नामक आधुनिक सूजनरोधी दवा से की गई हैं. इसे भी सूजनरोधी प्रभावों से युक्त पाया गया है.इसके प्रायोगिक परिणाम ट्यूमर को बनने से रोकने और कीमोथेरेपी के रूप में प्रभावी हो सकते हैं. गठिया जैसी स्थितियों होने वाले सूजन को कम करने के लिए मोरेल मशरूम एक औषधीय एक रूप में काम करती है.ऐसा माना जाता है कि मोरेल मशरूम प्रोस्टेट व स्तन कैंसर की संभावना को कम कर सकता है. मोरेल मशरूम एक बढ़िया एंटी-ऑक्सीडेंट का काम कर सकता है.

0morel-1429366762-1457074217
Medicinal Plants Click here >>

खासतौर पर कश्मीर, हिमाचल व हिमालय के ऊंचे हिस्सों में पैदा होने वाली गुच्छी की सब्जी पहाड़ों पर बिजली की गडग़ड़ाहट व चमक से बर्फ से निकलती है। बाजार में इसकी कीमत 25 से 30 हजार रुपए प्रति किलो है। यह दुर्लभ सब्जी पहाड़ों पर साधु-संत ढूंढकर इक_ा करते हैं और ठंड के मौसम में इसका उपयोग करते हैं। इसको बनाने की विधि में ड्रायफू्रट, सब्जियां, घी इस्तेमाल किया जाता है।

morel_620x350_61503467406
Medicinal Plants Click here >>

कई शोधों में यह बात सामने आई है कि मशरूम सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। यह यंग और एनर्जेट‍िक रखने में आपकी मदद करता है। मशरूम का इस्तेमाल सब्जी या सूप दोनों रूपों में किया जा सकता है। मशरूम में ऐसे एंटीऑक्सिडेंट की मात्रा बहुत ज्यादा हो सकती है जो बुढ़ापा आने की रफ्तार को कम करने के साथ ही स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद करते हैं।संतश्री ने बताया कि 1980 के सिंहस्थ में जूना अखाड़ा के एक महंत ने 45 लाख रुपए की गुच्छी की सब्जी का भंडारा सात दिन तक चलाया था।

Source-

Indian Institute of Horticulture Research
NBT-नवभारत टाइम्स

OFFER

1200X630%20-%20Copy
Medicinal Plants Click here >>


Recommended Planters : Colorful Planters :

Add a splash of colors to indoor or table top plants at home and office with these colorful planters.

View | Buy Colorful Planters >> | Browse Planters by Size | Browse Special Planters >>


Buy ready to use nutrient rich soil:

Buy nutrient rich soil | Buy Fertilizers >>

In general use a soil-based compost placed over a generous layer of drainage material such as earthenware crocks, pebbles or gravel. Water and feed regularly, especially while plants are bearing flowers and fruit, when a high-potash fertilizer is recommended.


Buy Decorative Pebbles :

Decorate planters or garden landscapes with these decorative pebbles :

View Details | Buy Decorative Pebbles >>

Using pebbles in a garden brings different colours and textures to the garden. Pebbles can also fill up otherwise empty space in the garden, leaving a visual that might be considered more interesting and aesthetic than simple dirt, soil or mulch.